Siddaramaiah handed over IT and Biotechnology portfolio to Priyank Kharge:Infrastructure portfolio given to MB Patil; Earlier both the ministries were kept with him.
Siddaramaiah handed over IT and Biotechnology portfolio to Priyank Kharge:Infrastructure portfolio given to MB Patil; Earlier both the ministries were kept with him.01/06/2023

सिद्धारमैया ने IT और बायोटेक्नोलॉजी विभाग प्रियांक खड़गे को सौंपा:एमबी पाटिल को दिया इंफ्रास्ट्रक्चर पोर्टफोलिया; पहले अपने पास रखे थे दोनों मंत्रालय

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बुधवार को इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और बायोटेक्नोलॉजी विभाग कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे प्रियांक खड़गे को सौंप दिया है। वहीं, सिद्धारमैया ने अपने करीबी एमबी पाटिल को इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट और बड़े व मध्यम उद्योगों का पोर्टफोलियो दिया है। कर्नाटक सरकार के 34 मंत्रियों के शपथ ग्रहण के बाद सिद्धारमैया ने IT/BT विभाग और इंफ्रास्ट्रक्चर विभाग अपने पास रखा था।

सिद्धारमैया की पिछली सरकार में भी खड़गे ने संभाला था IT मंत्रालय
सिद्धारमैया के पास फाइनेंस, कैबिनेट अफेयर्स, डिपार्टमेट ऑफ पर्सनल एंड एडमिनिस्ट्रेटिव रिफॉर्म्स, इंफॉर्मेशन और वे सभी पोर्टफोलियो हैं, जो किसी और को नहीं सौंपे गए हैं। ​​​​​​वहीं, ​प्रियांक खड़गे के पास ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्रालय पहले से थे। IT/BT मिलाकर तीन मंत्रालय हो गए हैं। खड़गे ने 2016-2018 में सिद्धरमैया की पिछली सरकार में भी IT/BT मंत्रालय संभाला था।

कर्नाटक की इकोनॉमी के लिए अहम है IT मंत्रालय
बेंगलुरु देश का IT कैपिटल है इसलिए इस मंत्रालय को कर्नाटक की इकोनॉमी के लिए अहम माना जाता है। कर्नाटक के इकोनॉमिक सर्वे के मुताबिक, राज्य में करीब 5,500 से ज्यादा IT कंपनियां और 750 MNC हैं। ये कंपनियां राज्य के एक्सपोर्ट में 58 अरब डॉलर का योगदान देती हैं।

इस इंडस्ट्री से 12 लाख प्रोफेशनल्स को डायरेक्ट नौकरी मिलती है, जबकि 31 लाख इन-डायरेक्ट नौकरी पैदा होती हैं। यह इंडस्ट्री राज्य की GDP में 25% का योगदान देती है। देश के कुल 155 अरब डॉलर एक्सपोर्ट में राज्य के सॉफ्टवेयर एक्सपोर्ट की हिस्सेदारी करीब 40% है।

सरकार में 34 मंत्रियों का कोटा पूरा किया
नई सरकार ने 20 मई को शपथ ली थी, जिसमें CM सिद्धारमैया, डिप्टी CM डीके शिवकुमार और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे प्रियांक खड़गे समेत 8 अन्य मंत्री शामिल थे। 27 मई को कैबिनेट विस्तार में 24 और मंत्री शामिल किए गए।

इनमें एचके पाटिल, कृष्णा बायरेगौड़ा, एन चालुवारायस्वामी, के वेंकटेश, डॉ एचसी महादेवप्पा, ईश्वर खंड्रे, क्याथासंद्रा एन. राजन्ना, दिनेश गुंडू राव, शरणबसप्पा दर्शनापुर, शिवानंद पाटिल, तिम्मापुर रामप्पा बलप्पा, एसएस मल्लिकार्जुन, शिवराज संगप्पा तंगदागी, डॉ शरणप्रकाश रुद्रप्पा पाटिल, मंकल वैद्य, आर हेबलकर, रहीम खान, डी सुधाकर, संतोष लाड, एन एस बोसेराजू, सुरेश बीएस, मधु बंगरप्पा, एमएस सुधाकर और बी नागेंद्र शामिल हैं।

सिद्धारमैया बोले- सरकार में सबका प्रतिनिधित्व
मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बताया कि हमने क्षेत्रीय, जातीय और सामाजिक न्याय के आधार पर कैबिनेट में विधायकों को जगह दी है। हाईकमान के साथ चर्चा के बाद ही कैबिनेट को अंतिम रूप दिया गया है। अगली कैबिनेट मीटिंग जून में होने की संभावना है। इसमें जनता से किए गए वादों पर फैसला लेंगे।

The mainstream media establishment doesn’t want us to survive, but you can help us continue running the show by making a voluntary contribution. Please pay an amount you are comfortable with; an amount you believe is the fair price for the content you have consumed to date.

happy to Help 9920654232@upi 

Related Stories

No stories found.
Buy Website Traffic
logo
The Public Press Journal
publicpressjournal.com