Rajbhar said - sit with your heart... don't let your courage burst: we and Dara will definitely become ministers.
Rajbhar said - sit with your heart... don't let your courage burst: we and Dara will definitely become ministers.11/09/2023

राजभर बोले-दिल थाम के बैठो...करेजा न फाट जाए:हम और दारा मंत्री तो बनेंगे ही, कोई रोक नहीं सकता; घोसी हार के बाद किया दावा

घोसी उपचुनाव में हार के बाद सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने नया दावा किया है। उन्होंने कहा- हम और दारा सिंह मंत्री बनेंगे। मंत्री बनने से कोई नहीं रोक सकता है। हम लोग NDA में शामिल हुए हैं। NDA के मुखिया नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्‌डा हैं...न कि ये लोग। जो लोग परेशान हैं। मैं उनसे कह रहा हूं कि दिल थाम के बैठो, कहीं करेजा न फाट जाए...हार्ट अटैक न हो जाए। हम मंत्री बनेंगे।''

शनिवार को घोसी में मंत्री बनने के सवाल पर राजभर ने कहा, ''उम्मीदवार के एंटी रिएक्शन से हम लोग हारे हैं। काफी वोट तितर-बितर हो गए। पार्टी को किसी दूसरे उम्मीदवार को खड़ा करना चाहिए था। विपक्ष ने जमकर दलित बस्तियों में पैसा गाड़ियों में भर-भरकर बांटा था। इसके लिए मैंने प्रशासन से शिकायत भी की थी। कई लोग गिरफ्तार भी हुए थे।''

दरअसल, घोसी उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी दारा सिंह की हार को राजभर के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। सियासी गलियारों में चर्चा है कि हार के बाद दोनों नेताओं यानी दारा सिंह और राजभर के मंत्री बनने पर संकट हो सकता है।

इसके इतर लखनऊ में सपा कार्यालय के बाहर 2 होर्डिंग लगाई गई है। पहली में अखिलेश और शिवपाल यादव की छपी है। लिखा है, 'टाइगर अभी जिंदा है... भतीजे को हराने से पहले चाचा को हराना होगा। दूसरी में राजभर की फोटो छपी है। लिखा है- 'सभी दल सावधान, ओम प्रकाश राजभर दगे हुए कारतूस हैं।'

चलिए अब एक-एक कर दोनों होर्डिंग के बारे में पढ़वाते हैं...

1.) चाचा को हराना मुमकिन नहीं... नामुमकिन है

शनिवार रात सपा कार्यालय के बाहर लगाए गए एक होर्डिंग में लिखा- "टाइगर अभी जिंदा है।" एक तरफ शिवपाल की फोटो मुकुट पहनकर हाथ जोड़कर लगाई गई है। दूसरी तरफ अखिलेश यादव की फोटो और फिर मुलायम सिंह की छोटी फोटो के बगल में यह भी लिखा गया है- "भतीजे को हराने से पहले, चाचा को हराना होगा और यह मुमकिन नहीं नामुमकिन है।" पोस्टर लगाने वाले समाजवादी समर्थक का नाम है अब्दुल अजीज है। यह होर्डिंग सपा कार्यालय के मेन गेट पर लगाई गई है।

2.) ओम प्रकाश राजभर दगे हुए कारतूस हैं

अखिलेश का साथ छोड़कर भाजपा से हाथ मिलाने वाले राजभर घोसी में हार के बाद निशाने पर हैं। भाजपा की हार के बाद लखनऊ में सपा दफ्तर के बाहर शुक्रवार रात एक होर्डिंग लगाई गई। होर्डिंग में लिखा है- सभी दल सावधान, राजभर दगे हुए कारतूस हैं। होर्डिंग में राजभर की तस्वीर और समाजवादी युवजन सभा के पूर्व राज्य सचिव आशुतोष सिंह की तस्वीर लगी थी।

8 सितंबर को आया था उपचुनाव परिणाम
घोसी के घमासान का 8 सितंबर को रिजल्ट आया। सपा ने बड़ी जीत दर्ज की है। सपा प्रत्याशी सुधाकर सिंह 124427 वोट मिले हैं। जबकि बीजेपी के दारा सिंह को 81668 वोट मिले। सुधाकर ने दारा सिंह को 42759 वोटों से शिकस्त दी। यह सीट दारा सिंह के इस्तीफे देने के कारण खाली हुई थी। जीत के बाद से सपा कार्यकर्ताओं और नेताओं में उत्साह देखने को मिल रहा है।

घोसी के घमासान में सपा ने बड़ी जीत दर्ज की है। जीत को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि ये झूठे प्रचार और जुमला जीवियों की पराजय है। ये दलबदल-घरबदल की सियासत करने वालों की हार है। ये नतीजा भाजपा का अहंकार और घमंड को चकनाचूर करने वाला है। ये एक ऐसा चुनाव है, जिसमें जीते तो एक विधायक हैं। पर हारे कई दलों के भावी मंत्री हैं

The mainstream media establishment doesn’t want us to survive, but you can help us continue running the show by making a voluntary contribution. Please pay an amount you are comfortable with; an amount you believe is the fair price for the content you have consumed to date.

happy to Help 9920654232@upi 

Related Stories

No stories found.
Buy Website Traffic
logo
The Public Press Journal
publicpressjournal.com