I.N.D.I.A. There may be trouble regarding seat sharing in the alliance: BJP said - they are busy cheating each other.
I.N.D.I.A. There may be trouble regarding seat sharing in the alliance: BJP said - they are busy cheating each other.15/09/2023

I.N.D.I.A. गठबंधन में सीट शेयरिंग लेकर हो सकती है मुश्किल:बीजेपी बोली-एक दूसरे को ठगने में लगे हैं, राजद ने कहा- हमारी नीयत है ठीक

I.N.D.I.A. गठबंधन की कोऑर्डिनेशन कमेटी की बैठक बुधवार को दिल्ली में आयोजित की गई। इस बैठक में सीट शेयरिंग को लेकर सहमति नहीं बन पाई है। इससे बीजेपी को हमला करने का मौका मिल गया है। बीजेपी ने कहा कि घमंडिया गठबंधन में सीटों का बंटवारा आसान नहीं हैं।

हालांकि, राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी पहले ही कह चुके हैं कि जहां क्षेत्रीय दल मजबूत है, वहां ड्राइविंग सीट क्षेत्रीय दल के हाथ में देना चाहिए।

बिहार में क्षेत्रीय पार्टियों में राजद और जदयू मजबूत स्थिति में हैं। वहीं, वाम दल भी पहले से थोड़ा मजबूत हुआ है। यही वजह है कि पिछले दिनों माले के राज्य सचिव कुणाल ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव नहीं, बल्कि विधानसभा चुनाव परिणाम के अनुसार सीटों का बंटवारा होना चाहिए।

बता दें 2020 विधानसभा चुनाव में माले ने 19 सीटों पर चुनाव लड़ा और 12 सीटों पर जीत दर्ज की। जबकि कांग्रेस ने 70 सीटों पर चुनाव लड़कर 19 सीटें हासिल की।

I.N.D.I.A. गठबंधन में शामिल पार्टियां एक-दूसरे को ठगने में लगी है

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता कुंतल कृष्ण ने कहा कि I.N.D.I.A. गठबंधन में सीटों का बंटवारा आसान नहीं हैं। सिर्फ बिहार की बात नहीं है, प्रत्येक राज्य में I.N.D.I.A. गठबंधन का यही हाल है। असल बात यह है कि गठबंधन की पार्टियां एक-दूसरे को ठगने में लगी हैं।

बीजेपी अपनी चिंता करे: राजद

राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि बीजेपी के नेता पहले अपनी चिंता करें। पहले बीजेपी कहती थी कि विपक्ष एकजुट नहीं होगा। विपक्ष एकजुट हुआ और कोऑर्डिशन कमेटी की बैठक भी हुई। उन्होंने कहा कि हमारी नीयत ठीक है। इसलिए सीट शेयरिंग पर भी सहमति बन जाएगी।

​​​​​लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की बात माननी होगी

बिहार में I.N.D.I.A. गठबंधन में राजद, जदयू, वाम दल और कांग्रेस शामिल हैं। पिछले दिनों कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा था कि पिछली लोकसभा चुनाव में जितनी सीटों पर लड़े थे, उतनी सीटों पर कम से कम चुनाव लड़ेंगे। बता दें कांग्रेस 9 सीटों पर लड़ी थी।

बिहार में इस बार की राजनीतिक परिस्थितियां अलग

2019 के लोकसभा चुनाव और 2024 लोकसभा की राजनीतिक परिस्थितियां अलग हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार एनडीए में थे। तब एनडीए ने 40 सीटों में से 39 सीटों पर जीत दर्ज की थी। बीजेपी ने 17, लोक जनशक्ति पार्टी ने 6, जदयू ने 16 शामिल हैं। वहीं, कांग्रेस एक सीट जीती थी। हालांकि, 2024 लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार I.N.D.I.A गठबंधन का हिस्सा हैं। इस स्थिति में बीजेपी और जदयू दोनों की मुश्किलें बढ़ सकती है।

ये खबर भी पढ़िए..

I.N.D.I.A की पहली रैली अक्टूबर में भोपाल में:कोऑर्डिनेशन कमेटी की बैठक के बाद वेणुगोपाल बोले- सीट शेयरिंग पर जल्द बात हो

दिल्ली में बुधवार (13 सितंबर) को शरद पवार के आवास पर विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A की कोऑर्डिनेशन कमेटी की पहली बैठक हुई। बैठक के बाद कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने बताया कि हमने देश के अलग-अलग राज्यों में रैलियां करने का फैसला लिया है। पहली रैली अक्टूबर के पहले हफ्ते में भोपाल में होगी, जिसमें मोदी सरकार में बढ़ रही बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों पर बात होगी। सभी दल जाति-जनगणना का मुद्दा उठाने पर भी सहमत हुए हैं। 

The mainstream media establishment doesn’t want us to survive, but you can help us continue running the show by making a voluntary contribution. Please pay an amount you are comfortable with; an amount you believe is the fair price for the content you have consumed to date.

happy to Help 9920654232@upi 

Related Stories

No stories found.
Buy Website Traffic
logo
The Public Press Journal
publicpressjournal.com