कानपुर में 3 डंपरों की आमने-सामने भिड़ंत:जिंदा जलकर एक की मौत, 5 घायल, एक ने इलाज के दौरान तोड़ा दम; हाईवे पर 10 किमी लंबा जाम

कानपुर में रविवार सुबह तीन डंपरों की आमने-सामने भीषण भिड़ंत हो गई। टक्कर के बाद तीनों डंपरों में आग लग गई। हादसे में एक डंपर के कंडक्टर की जिंदा जलकर मौत हो गई। उसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है। वहीं एक घायल की इलाज के दौरान कानपुर के हैलट में मौत हो गई है। जबकि 5 घायल हैं। हादसा घाटमपुर में जहांगीराबाद चीनी मील मोड़ के पास हुआ। इससे कानपुर-सागर हाईवे पर 10 किमी. लंबा जाम लग गया।
भिड़ंत:जिंदा जलकर एक की मौत, 5 घायल
भिड़ंत:जिंदा जलकर एक की मौत, 5 घायल25/06/2023

राहगीरों ने घटना की सूचना फायर ब्रिगेड और पुलिस को दी। फायर ब्रिगेड ने एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इसके बाद जिंदा जले युवक की लाश निकली गई। वह पूरी तरह जल गई थी। जबकि घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से सभी को कानपुर हैलट भेज दिया गया है। यह सभी डंपर के ड्राइवर और कंडक्टर हैं।

कंडक्टर चीखता रहा, लेकिन लोग बचा नहीं पाए
घटना सुबह 7 बजे की है। एक डंपर में साबुन बनाने का पाउडर लोड था। यह कानपुर से घाटमपुर की तरफ जा रहा था। जबकि दूसरा डंपर घाटमपुर की तरफ से आ रहा था। दोनों की स्पीड तेज थी। ऐसे में आमने-सामने दोनों की टक्कर हो गई। टक्कर के तुरंत बाद पीछे की तरफ से आ रहा मोरंग लदा एक डंपर इन दोनों से टकराकर पलट गया। वह सड़क किनारे खाई में पलट गया।

टक्कर के बाद तीनों डंपर में आग लग गई। साबुन पाउडर से लोड ट्रक में आग तेजी से फैली की कंडक्टर बाहर नहीं निकल पाया। आसपास के लोगों ने ड्राइवर को किसी तरह से बाहर निकाला। वह काफी झुलस गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कंडक्टर को बचाने की कोशिश की गई। वह अंदर चीखता रहा। लेकिन, तब तक आग तेज हो गई थी। ऐसे में उसे बचाया नहीं जा सका।

फायर बिग्रेड ने आग बुझाने के बाद डंपर के केबिन से कंडक्शन की जली हुई लाश निकाली। हादसे के बाद स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि हाईवे में डिवाइडर नहीं हैं। इस कारण अक्सर यहां दुर्घटनाएं होती रहती हैं। एडीएम और एससीपी ने एनएचएआई को इसके लिए लेटर भी लिखा था।

पुलिस ने घायलों को पतारा और घाटमपुर सीएचसी पहुंचाया। वहां से सभी को कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया। हादसे में उन्नाव निवासी मुलायम सिंह (30), दीपेश, मैथा निवासी प्रदीप (35) , उन्नाव के भैया खेड़ा निवासी सुशील कुमार (40), हरसिंहपुर गांव निवासी सचिन (30) गंभीर घायल हैं। वहीं सचिन (30) की इलाज के दौरान मौत हो गई है।

जहांगीराबाद गांव निवासी प्रत्यक्षदर्शियों मो आरिफ उर्फ़ छोट्टन, अनिल कुमार पुत्र राधेश्याम, मिथुन पुत्र विजय सोनकर ने बताया, ''रविवार सुबह वह कानपुर जा रहे थे, तभी चीनी मील मोड़ के पास पहुंचते ही दो डंपरो की आमने सामने भिड़ंत हो गई। इस दौरान ओवरटेक कर रहा डंपर भी डंपर मे जा घुसा। टक्कर इतनी तेज थी की हम लोग वही के वही खड़े हो गए। तेज धमाके के साथ तीनों डंपर जल उठे। हम लोग मौक़े पर पहुंचे और फायर ब्रिगेड पुलिस को सूचना दी।''

प्रत्यक्षदर्शीयो ने बताया कि उनके सामने क्लीनर जल रहा था। वह बचाव बचाव की आवाज लगा रहा था, हम लोगों ने रोड के किनारे से मिट्टी उठाकर डंपर पर फेकना शुरू किया, पर मिट्टी से आग मे कोई फर्क नहीं पड़ा। लगभग दस मिनट पर आवाज आनी बंद हो गई। मौक़े पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने आग पर काबू पाया।

10 किलोमीटर लगा जाम, हाइवे पर रूट डायवर्जन
हादसे के बाद हाईवे पर 10 किमी. लंबा जाम लग गया। कानपुर की ओर धरमपुर बम्बा, घाटमपुर नगर तक गाड़ियों की लाइन लग गई। घाटमपुर एसीपी दिनेश शुक्ला ने बताया की हाईवे पर रामईपुर से रूट डायवर्ट किया गया है। कानपुर की ओर से आने वाले वाहनों को साढ़ की ओर भेजा जा रहा है। वहीं, घाटमपुर चौराहे से कानपुर की ओर आने वाले वाहनों को परास की ओर भेजा गया है।

The mainstream media establishment doesn’t want us to survive, but you can help us continue running the show by making a voluntary contribution. Please pay an amount you are comfortable with; an amount you believe is the fair price for the content you have consumed to date.

happy to Help 9920654232@upi 

Related Stories

No stories found.
Buy Website Traffic
logo
The Public Press Journal
publicpressjournal.com